दिवंगत गायक सिद्धू मूसेवाला का मूर्ति का हुआ अनावरण

अगली स्लाइड पढ़े ➡️

मूसेवाला के पिता मूर्ति पकड़कर रोने लगे 

18 जुलाई को मनसा के मूसा गांव में सिद्धू मूसेवाला के प्रतिमा का हुआ उद्घाटन. 

मूसेवाला के पिता बलकौर सिंह ने प्रतिमा का किया उद्घाटन.

बलकौर सिंह ने प्रतिमा को गले लगाया और रोने लगे. उन्होंने कहा, “मैं इस तरह अपने बेटे की प्रतिमा को नहीं देख पाऊंगा.”

बलकौर सिंह ने आगे कहा– “मेरा बेटा एक शेर था जो आजादी से घूमता था. उसने अपने हत्यारों की तरह अपना चेहरा नहीं छिपाया."

बलकौर सिंह ने ये भी आगे कहा की सोशल मीडिया पर मेरे बेटे के फॉलोअर्स की संख्या 16 मिलियन पहुंच गई है. वो उसकी आवाज को शांत करना चाहते थे लेकिन वह और भी ज्यादा मजबूत हो गया है.

मूसेवाला की मां चरण कौर ने कहा– मेरे बेटे में एटिट्यूड डेवलप हुआ था, लेकिन वह उस वक्त जरूर होता है जब आप जमीनी स्तर से आगे बढ़े हों और अपनी पहचान बनाई हो.

मूसेवाला की मां ने आगे कहा– उसने लोगों को इलाज कराने के लिए लाखों रुपये बांटे थे.

आपको जानकारी के लिए बता दें कि मूसेवाला की मूर्ति वहां पर लगाई गई, जहां पर उनका अंतिम संस्कार हुआ था.

सूत्रों के मुताबिक, दिवंगत गायक सिद्धू मूसेवाला की प्रतिमा को इकबाल गिल ने अपने हाथों से बनाया था.

और पढ़ें