आईएएस रियाज अहमद को भेजा गया जेल, यौन शोषण का लगा आरोप

अगली स्लाइड पढ़े ➡️
Image courtesy Pexels.com

रियाज अहमद 2019 बैच के आईएएस अधिकारी हैं. गरीबी में पले बढ़े थे और 12वीं में कम मार्क्स होने के बावजूद यूपीएससी क्लियर किया. इन्होंने वर्ष 2019 में खूब सुर्खियां बटोरी थी.

रियाज अहमद वर्ष 2022 में एक बार फिर से उनकी चर्चा सब जगह हो रही है. परंतु इस बार उनके चरित्र पर दाग लग गया.

सूत्रों के मुताबिक, सैय्यद रियाज अहमद के खिलाफ एक छात्रा ने यौन शोषण का आरोप लगाया है.

पीड़िता मूल रूप से हिमाचल प्रदेश की रहने वाली हैं. वह मध्यप्रदेश के आईआईटी कॉलेज में पढ़ाई करती है.

आईआईटी के 20 छात्र छात्राएं खूंटी में एकेडमिक टूर और इंटर्नशिप के लिए आए हुए थे.

छात्रों को पार्टी देने के बहाने एसडीएम रियाज अहमद ने अपने आवास में बुलाया और पार्टी में ड्रिंक्स भी पिलाया गया.

आईआईटी की एक छात्रा ने एसडीएम रियाज अहमद का आरोप लगाया है कि एसडीएम साहब ने बात करने के बहाने अकेले में ले गए और यौन शोषण करने की कोशिश की.

पीड़ित छात्रा एसडीएम आवास से, अपने दोस्तों के साथ वहां से भाग गई.

खूंटी एसपी अमन कुमार और डीसी शशि रंजन ने छात्रा की तरफ से सेक्सुअल हरासमेंट का केस दर्ज किया. उसके बाद रियाज अहमद को जेल भेजा गया.

आपको जानकारी के लिए बता दूं कि रियाज अहमद शादीशुदा है और वे खूंटी में एसडीएम के पद पर थे. उनकी पत्नी भी आईएएस है, जो छत्तीसगढ़ में एसडीएम के तौर पर तैनात हैं.

और पढ़ें